प्यार को जताते रहना जरूरी है:- कई सारे चिजें हमे मिलने के बाद उस चिज पर उतना ध्यान नहीं दे पाते है । कारण कि हमारे मन यह सोच बैठ जाता है कि पास तो है उस चिज पर उतना फिकर क्यों करुं उस चिज के बारे मे इतना क्यों सोचूं जो पहले से ही मेरे पास मौजूद है । इसी तरह कि कई सोच जो हम अपने मन मे रख लेते है जिसके कारण हम अपने आप पर और अपनों पर ध्यान ही नहीं दे पाते हैं । मेरे कहने का यह मतलब है कि सभी कोई वैसे नहीं होते है क्योंकि सभी कोई एक जैसा नहीं होते है न हीं एक जैसा सोचते है ।

कई सारे चिजें हमसे उम्मिद लिये होते है लेकिन हम उनके तरफ ध्यान ही नहीं दे पाते है, कारण कि हम कई सारे चिजों पर ध्यान दे रहे होते है । बहुत दूर कि चिज को पाने कि चाह में या फिर अपने जिंदगी को और बेहतार रुप से बनाने के लिए और ज्यादा पैसे कमाने के लिए । लेकिन वास्तव मे हम किसी को पहले से पा लिए होते है पर उनके तरफ ध्यान  नहीं दे पाते है । सोच इतना दूर चाली जाती है कि सामने के चिजे ही दिखाई नहीं देती है, यहाँ तक कि हमारे जिंदगी मे ऐसे कई शख्स तक को भी पहचाने मे नाकर देते है । उस दूर कि सपने को पूरा करने लिए, अगर बात जिंदगी को बेहतार करने कि हो ऐसा करने मे संकोच कभी नहीं करना चाहिये ।

प्यार को जताते रहा जरूरी है
प्यार को जताते रहा जरूरी है

मुझे लगता है कि लोग अपने जिंदगी को बेहतार बनाते है तो उसकी वाजह उसके परीवार होते है, ताकि परीवार के सदस्य आच्छे जीवन का आनंद ले सके । हार किसी का अलग अलग सपना होता है, अपने कामों के साथ अपने परीवार को भी समय दें ।  अपने प्यार का इजहार करके बतायें कि आप उन्हे कितना पसंद करते है, प्यार करते है, जो भी करते है उनके लिए ही करते है । अपने परीवार मे मिठस भरना के लिए, अपने परीवार के सदस्यों को अपना प्यार जताते रहे ।

जिंदगी कहाँ समप्त हो जाये किसी को पता नहीं और इस बात का शाबूत भी नहीं है हम अपने जिंदगी को कहाँ और किस तरह त्याग दें ?  परीवार को समय दें, अपने बच्चों को समय दें ।

Leave a Reply

Close Menu