लडकी पटाने के बारें में सोचने से पहले पाँच बातों की ध्यान देना जरुरी है:- कहा जाता है कि प्यार के बीना जिंदगी अधूरी है, और इस जहाँ मे प्यार करने वाले बहुत है । प्यार के प्रकार भी बहुत है, लेकिन कईओं को अपना पसंद का प्यार नहीं मिल पाता जिसे वे चहते है, चहते हुये भी अपना नहीं बना पते । उसका यही कारण है कि ठिक से लडकी पटाने कि तरीके से वाकीत नहीं हुये होते है, जिसके कारण उन्हे ईंकार कर दिया जाता है । और इसी तरह ही कई प्रेम कहानीयाँ शुरू होने से पहले ही खतम हो जाती है, पछतवा  बाद मे होता है कि काश कि कोई लडकी पटाने के ऊपाय किसी ने पहले बता दिया होता । लेकिन यह सोच पूराने जामाना मे होता था, क्योंकि उस समय लवगुरूओं का संख्या बहुत ही कम था ।

लडकी पटाने के बारें में सोचने से पहले पाँच बातों की ध्यान देना जरुरी है
लडकी पटाने के बारें

जिन्हे आप चाहते है अपने दिल से, अपने पूरे मन से, पूरे तन से लेकिन वह आपका हो नहीं पाती, कई तरह कि मंत्र का इस्तेमाल करने के बावजूद भी वह आप का हो नहीं पाती, तो घबराने कि कोई अवश्यकता नहीं क्योंकि इस लेख मे वैसे बाते बताया गया है जिनके मदद से जिस लडकी थोडा बहुत जनते है, उस लडकी को आसानी से पटा सकते है । लेकिन आप को अपने आप पर बिश्वास करना होगा, अपने आप पर जब तक विश्वास नहीं करेंगे तब तक आप के ऊपर लडकी तो दूर कोई विश्वास नहीं करेगा, इसीलिये आप का विश्वास ही उस लडकी को पटाने मे आपका मदद करेगा ।

अक्सर ऐसा होता है कि जहाँ हम रहते है, जहाँ हमारी डेरा रहती है, जहाँ हम पढते है, वही आस पास कि लडकी पसंद आ जाती है । जिसे थोडा बहुत जनते है या फिर ऐसा भी होता कि वो हमारी दोस्त ही होती है, जिसे कि अंदर ही अंदर पागलों कि तरह चाहते है । लेकिन कई पटाने कि कोशिसें नकाम हो जाती है, जिसे कि ईंकार का धब्बा मिल जाती है । अपने आप पर विश्वास के साथ हमारे व्दारा बताये लडकी पटाने की तरीकों अपनाना होगा जिसके बाद आप लव रिलेशनशिप के आंदर आ जायेंगे । लडकी पटाने के बारें सोचने से पहले इन पाँच बातों की ध्यान देने कि अवश्यक्ता है-

  1. अपने पहनावे

हमारी मतलब यह नहीं कि महगें कपडे, महंगे जुते ले लें, हमारी यह मकसद नहीं । हमारी कहने का मतलब यह है कि आप अपने आप कपडों पर थोडा बहुत ध्यान दें, हमें पता है कि आप अपने कपडों पर ध्यान देते है, लेकिन थोडा सा ओर ध्यान देने कि अवश्यक्ता है । क्योंकि आज के जमाने मे हर लडकी चाहती है कि उसका होने वाला बोयफ्रैंड, अपने साथ अपने शरीर पर ध्यान देने वाला हो । अगर आप कहीं  जा रहे है, लंगूर बन कर जा रहे है, हमारी यह कहाने का मतलब यह नहीं कि आप लंगूर है, नहीं लंगूर, आप को दिखाने वाले कपडों से दूर ही रहे । क्योंकि लडकीयाँ उन लडकों के तरफ ज्यादा अकर्षित होती है, जो कि बाकि लडकों के मुकाबले, पहनावे में ध्यान देते है, अपने शरीर का खयाल रखते हैं । पहनावे पर ध्यान देने के बाद,

 

  1. बिनम्रता बनाना होगा

अपने आप पर विश्वास के साथ, अपने ऊपर विनम्रता भी बनाये रखने कि अवश्यकता होगी । क्योंकि कोई लडकी ऐसे लडके के साथ रिलेशन जोडना चाहेगी जो कि विनम्रता स्वाभव को हो या अपने ऊपर विनम्रता बनाये रखता हो । ये गलती नहीं करे क्योंकि अगर आप हमेशा किसी के साथ जुबान लडाने वाले या फिर उन लडकों मे किसी से तमीज से बात नहीं करते है । तो आपको लडकी पटाने से पहले ये गलती बिल्कुल भी  न करें क्योंकि ऐसे लडको से लडकीयाँ नफरत करती है, पटना तो दूर, दूर से भी पसंद नहीं करेगी ।  हाँ ये अलग बात है अगर जिसे आप चाहते है, उस्से कोई बातमिजी के साथ बात कर रहा है तो आप यहाँ कुछ पल के लिये उसकी मदद कर सकते है, जुबान लडाने में । उसकी मदद करना ये बहुत अच्छी options होगा लडकी को अपने तरफ खिचने का । उसको अपने तरफ खिंचने के बाद, बात करने जाने है मगर,

लडकी पटाने के बारें में सोचने से पहले पाँच बातों की ध्यान देना जरुरी है
लडकी पटाने के बारें

 

  1. बोलने से पहले सोचले

कहा जाता है कि कुछ बोलने से पहले कई बार सोचना चाहीये, जो बोलना चाह रहे है, आप के लिये तथा सामने वालो या फिर उसके लिये आच्छा हो, तब जा के बोले । कहीं ऐसा न हो जाये कि जो आप बोलने जा रहे है, वह आप के लिये तो अच्छा है पर सामने वाले अच्छा न हो, यह वाजह उनके सामने आप को वो गलत न सोच ले । उसके मन मे आप एक गिरे हुये ईंसान न बन जाये । जो कि उस्से बिल्कुल भी अच्छा अहसास नहीं दिलायेगा । जो उन्हे बाताना चाहते है बोलना चाहते है, उस्से कई बार सोचले उसके बाद ही अच्छे तरीको को अपनाते हुये उस्से बोलना है । अच्छे तरीके से बोलने के बाद,

 

  1. ईमांदर बनें

ईमांदरों को सभी कोई पसंद करते है, आप को याद होगा स्कूल मे जो स्टूंडेंट अपना घर काम या फिर शिक्षक के दिये सवालों को ईमांदर पूर्वक घर से बना के लेता था, उसे टिचर कफी पंसद करते तारिफें करते है । वैसे ही लडकी पटाने के ममले मे होता है, जो भी उसका तारीफ करे तो, उनके बारे जो भी कहें ईमांदर दिवानों की तरह, आप झुटी तारीफें बिल्कुल भी नहीं करें । अपने आप को कौन नहीं जनता, अपने बारें कौन नहीं जनता ईसीलिये झूठी तारिफे बिल्कूल नहीं करें । नहीं तो उन्हे पता चाल जायेगा कि आप झूठी तारीफ करके उन्हे पटाने कि कोशिस कर रहे हैं । उन्हे पहले ही पता चाल जयेगा, इसीलिय आप झूटी तारीफों से बचे और ईंमांदर बने । ईंमांदर से ताऱीफ करने के बाद,

लडकी पटाने के बारें में सोचने से पहले पाँच बातों की ध्यान देना जरुरी है
लडकी पटाने के बारें

 

  1. खस महसूस करायें

लडकी पटाने का खस महसूस करना, सबसे खस है । मन लिया जाये आप उनसे बाते करना शूरू कर दिये और वो आप से डर रही है । तो उन्हे उदारण स्वारूप कुछ तरह कि शब्दों से आप उनका अहसास दिला सकते है, देखीये, आप को डरने कि कोई अवश्यक्ता नहीं, अगर आप को मुझसे डर लग रहा हो, या फिर मेरे साथ आप कुछ देर वक्त बिताना नहीं पसंद करेंगे तो आप मेरे चेहरे पर बेहिचाक काह सकते है । पहली बार बातें करें तो उनको लवर का नहीं बल्कि दोस्त का दर्जा दें, ताकि वह आगे कि फैसला करने लिये सोच साके । कुछ दिन के दोस्ती के बाद अपनी दिल की बात बतां दें । सारे टिप्स को पढने के बाद, फैसला आपका,

ये 5 टिप्स आप की जिंदगी बादल सकती है, अगर आप अपने ऊपर विश्वास करने के साथ, बताये 5 टिप्स को फोलो करते है तो । जिंदगी एक दूसरे का अलग अलग है, आगे कि फैसला भी आप ही के ऊपर है, 5 टिप्स को अपने जिन्दगी से जोडना या नहीं जोडना, आप के ऊपर है क्योंकि अपना अपना जिन्दगी और अपना अपना भविष्या है ।

This Post Has 6 Comments

Leave a Reply

Close Menu