12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं:- कई बार ऐसे शख्स का चेहरा दिख जाता है, देखने के बाद बार बार उसकी याद आती है । न याद करना बस मे नहीं रहता और उसकी ही बार बार याद आती है । घर लौटने के बाद न बात करने कि वाजह से पछतवा होता है कि काश कि उसे बात कर लिया होता । शुरूआती बात न करने कि वाजह भी हो सकता है, क्या पता आपको पता ही नहीं था कि उस लडकी से कैसे बात कि शूरूआत करें ? इसी सवाल का जवाब देते हुये, इस लेख को लिखा गया है कि आप कैसे किसी आंजन लडकी से बात कर सकते है ?

शादी में, पर्टी मे, रेलवे स्टेशन में, बस स्टैंड में, बाजार में, मेला में और  किसी सोशल गेदरींग में । जनकारी लेने के बाद किसी लडकी से बात करने मे लगेगा नहीं कि किसी लडकी से बात करने में हिचकीयेंगे नहीं । आप कैसे किसी भी लडकी के साथ, किसी भी जगाह पर, किसी भी वक्त बात कर सकते है, वह भी बिना बेइज्जात हुये लेकिन हमारे व्दारा दिये जनकारी को आजमाने के बाद ही यह संभावना है ।

चेतावनी- किसी भी लडकी से बात कि शुरूआत करने से पहले आस पास के महौल के अनुसार ही बात कि शुरूआत करें, कहने का मतलब यह है कि, जब वह किसी काम में बहुत ज्यादा व्यस्त हो, किसी के साथ फोन मे बात कर रही हो, वह परेशान हो, वह होस्पीटल मे हो या फिर वह किसी के मईयात मे हो । आप किसी भी लडकी से बात कि शूरूआत करने से पहले साही वक्त और खूबशुरात दिन का ईंतजार करना है ।

सबसे खस बात जिसे आप बात करने जा रहे हो, वह 5 सेंकेड के आंदर आपको देख अपने मन में एक सोच बना लेगी । इसीलेये आपको ध्यान देना होगा, अपने स्माईल, ग्रूमिंग, आईब्रो, लिप्स, नाक के बाल, ट्रिम, मूँ के बादबू के साथ आपके कपडे और शरीरिक महाक जो कि लडकी के पास पहुंचने से पहले ही उसको बाता देगी कि आप आच्छे महाक रहे है ।

कहाँ और किस तरह से बात कि शूरूआत करें ?

12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं
12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं

बाजार में, मेला में, कैसे बात कि शुरूआत करें ?

1 सवाल के साथ करे बात कि शुरूआत

उदाहरण के तौर पर अपने किसी खूबशुरात लडकी बाजार में देखा, उसने एक बैग पकडी है, उसमे कुछ समान है और वह खडी होके अपने मोबाईल को इस्तेमाल कर रही है । यानी कि हर वह छोटी सी छोटी चिज पर गौर करना होगा जो कि उसके हाथ मे हो या उसे जुडी हुई हो । उसके फोन हो सकता है, उनके टोप या कोई और भी चिज हो सकता है जो कि सामने जाने के बाद देखाई दे । उनके पास जायें उसके बाद अपने कहा, Excuse me  अगर आप बुरा न माने तो इस मोबाईल का performance कैसा है ? क्योंकि आज ही मैं इस फोन को लेने वाला हूँ । आपने अपने बात को एक सवाल से शुरू किया, फिर उनका जवाब आया । जवाब मे गलत सही कुछ भी आ सकता है, लेकिन बुरा न मनते हुये । आपको दूसरा  स्टेप को अपनाना है ।

2 बात को लगातार बनाये रखें?

अपने बात कि शुरूआत एक सवाल से किया, आपको जवाब मिलने के बाद, वहाँ से  जाना नहीं है बल्कि अपने बात को महौल के अनुसार आगे बढाना है । माना आप बाजार मे ही हैं, अपने बात को आगे बढाते हुये कहना है, दरअसल मुझे बाजार करना थोडा सा भी नहीं आता है । अगर आपको किसी प्रकार कि परेशानी नही है तो क्या आप मेरे समान लेने मे मदत करेगे ? अपने बात को बनाये रखा ओर एक सवाल करके और उन्हे इंगीत किया कुछ देर साथ घूमने के लिये । किसी भी अजनाबी से ऐसा कहते है तो वह तुरंत हाँ नहीं कहेगी, वह जरा सोचेगी लेकिन उनके जवाब देने से पहले आपको अपना होगा तीसरा तारीका ।

3 उन्हे अहसास दिलायें आप एक आच्छा और नेक ईंसान है

 आपको उन्हे अहसास दिलाना है कि वह एक साही लडके के साथ है, उनके याकिन जितना होगा । क्योंकि उनके लिये आप एक अजनाबी है तो आपको उनका काम आसान करना होगा । कहने का मतलब यह है कि अपने गुजारिस किया कि वह आपके साथ कुछ वक्त बिताये और वह सोच रही है । उनके जवाब देने से पहले आपको कहना है, देखिये आप परेशान मत होईयें, आप बेहिचाक मेरे चेहरे पर काह सकते है । अगर आपके पास समय नहीं है तो या फिर मेरा सकाल आपको पसंद नहीं आई हो तो आप काह सकते है ।  ये मैं अपके नहीं बल्कि अपने लिये काह रहा हूं । क्योंकि मुझे किसी के साथ जबरजस्ती बात करना पसंद नहीं और नहीं वक्त बिताना और आपके जैसे healthful लडकीयों के साथ बिल्कुल भी नहीं करना चहता । अपने उन्हे comfortable बनाया । अब वह अपना जवाब दे सकती है,  हाँ या न । उसके बाद अपने हाथों मे है जो कि क्या करना है ?

 

शादी में, पर्टी मे, सोशल गेदरींग में, कैसे बात कि शुरूआत करें ?

12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं
12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं

4 अलग तारीके से तारीफ करें

मन लिया अपने किसी खूबशुरात लडकी को देखा,  उसके पास जाके, उदाहरण के तौर पर तारीफ किये, excuse me आप बहुत खूबसुरात है, ऐसा कहते है तो आपका काम आगे नहीं बढेगा । क्योंकि बचपन से हर रोज कोई न कोई उसे ऐसा कहते आये है और सूनते आ रही है । आपको ऐसा तारीफ करना होगा जो कि सूनने  कि आदत नहीं हो । उदाहरण के तौर पर, आप बहुत खूबसुरात है, मुझे पाता है कि मेरी इस बात पर आपको कोई फर्क नहीं पडता क्योंकि मैं जनता हूँ कि आपको हर रोज कोई न कोई मिलता होगा जो कि यह कहता है या फिर कहते आया है ।

तो सवाल यह सवाल उठता है कि मैं आपसे यह क्यों काह रहा हूं, क्योंकि आपको देखने के बाद मैं ये मौका गवाह देता तो मैं दुनिया को सबसे वेवकुफ ईंसान होता । अपने औरों से अलग तारीका अपना के उनका तारीफ किया । तारीफ हर किसी को पंसद होता है, लेकिन न दिख रही चिजों पर तारीफ न करें यानी झूठी तारीफ नहीं करें । आगे बढाने के लिये तारीफ करें ।

5  उसको समझें

किसी भी लडकी के साथ ज्यादा देर रुके रहना है तो उसको समझना बहुत जरूरी पहुलु है । देखें कि क्या वह आप मे थोडा बहुत interest ले रही है या नहीं । जनने के लिय़े उसके बोडी लंगुयेग को समझे, क्या वह आपके तारीफ के बाद आप से बात कर रही है या फिर किसी ओर चिज पर उसका ध्यान है ।

 

रेलवे स्टेशन में, बस स्टैंड या रेलवे, बस में, कैसे बात कि शुरूआत करें ?

रेलवे स्टेशन या बस स्टैंड मे किसी से बात करना, बहुत मुश्किल है । क्योंकि उस समय कहीं जाने कि जल्दी होती है । हाँ अगर रेलवे स्टेशन मे ईंतजार कर रही हो और आपका भी ट्रेन, बस लेट हो तो बात कर सकते है । आगे जनने वाले है कि अगर आपके सामने ही कोई लडकी बैठी हो तो उसे बात कैसे करें ?

6 शारीफ बने

12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं
12 तारीके किसी लडकी से बात शुरू कर सकते हैं

दिखने भी शाऱीफ बनना है देखने भी शाऱीफ बनना है, जब कोई लडका किसी लडकी को देखता है तो ऊपर से निचे देखता पूरी दिशा कि चेक करते हो । कि निचे का माल तो ठिक है लेकिन उपर का थोडा ओर बडा होना चाहीये था । कुछ इसी तरह लडकीय़ों मे देखते है, लडकी सब कुछ देखती है कि आप कैसे किस तरह देख रहे हैं ? इसीलिये ये सब मत दिखीये, उसे मत दिखाओ कि, आप उन लडको मे से है जो कि लडकीओं को ऊपर से निचे तक देखते है, आपको ऐसे दिखाना है जो कि आपको कुछ पता ही नहीं है, कि लडकी आस पास ही नहीं है  । बाकि लडको के तरह ज्यादा देखो मत घूरो, आराम से बैठो रहे अगर आप बात कि शूरूआत करते है तो वह आराम से जरुर बात करेगी ।

7 Earphone use न करो

मन लिया जाये कि लडकी आपके बगल मे बैठी हुई है, क्या पता वह वहाँ पर नई है वह पूछना चहती है कि अगला स्टोप कौन सा है ? फिर ये, ये वाला स्टोप कब आयेगा ? अगर उस समय अपने कान मे Earphone लगाये रहेंगे तो शायद पूछेगी नहीं । माना कि नाजर आंदज करना पर इतना ज्यादा भी नाजर आंदज नहीं करना चाहीये कि वह सामने बैठी ही नहीं है, उसे वैसे लग सकता है जब आप अपने कानों पर Earphone लगाये हुये होते है । कुछ पूछना होगा तो भी कुछ पूछने का मन नहीं करेगा । इसीलिये Earphone न लगायें ताकि उन्हे लगना चाहीये कि आप किसी भी काम मे व्यस्त नहीं है, तो आपके साथ बात करने मे भी दिक्कात नहीं होगी ।

8  छोटी सवाल करें

सवाल बहुत हैं, पर शुरूआती सवाल आप पूछ सकते है, क्या आप Student हो ? क्योंकि ये सिम्पल और छोटा सवाल है, जिसे जवाब देने मे दिक्कात नहीं होती है । अगर वह Student  नहीं होगी तो वह आराम से जवाब दे देगी । उसके अपने बात को आगे बढाने के लिये कहां जो रही हो, पूछ सकते है । उसके बाद जहाँ जा रही है, वहाँ के बारें अगर थोडा बहुत जनकारी होगा तो आपको वहाँ से जुडे सवाल पूछे । या फिर आपको थोडा जनकारी होगा तो काह सकते है । पता है मेरे चाचा जी उस जगाह के बारे मे ऐसे बात बता रहे थे ? क्या सच है क्या ? अगर उसे पता होगा तो वह आपको जवाब देगी, नहीं होगा तो नहीं देगी । सवाल पूछते वक्त डरावनी बातें नहीं किजीये नहीं तो वह डर सकती है, क्या पता इस वाजह आपके बात आगे न बाढे पाये ।

हाँलाकि आप अपने अनुसार सभी बताये बातों को अजमा सकते है, हम नहीं काह रहे कि बाजार वाला टिप्स से बाजार मे ही करे, शादी वाला टिप्स शादी मे करें, यह सिर्फ विभाजीत किया हुआ । न कि हर अलग अलग स्थान मे अलग तारीके से काम करता है, आप अपने अनुसार अजमा सकते हैं, जो जो आपको आच्छा लगता हो ।

जरुरी पोस्ट

लडकी पटाने के बारें में सोचने से पहले पाँच बातों की ध्यान देना जरुरी है

DATING TIPS FOR MEN, THE MOST IMPORTANT DATING TIPS IN HINDI | पुरुषों के लिए डेटिंग युक्तियाँ

 

Leave a Reply

Close Menu