Types of kisses:-रिलेशनशिप के आने के बाद समने एक ही चिज जो बार बार खयाल आता है, गर्लेफ्रैड को किस् करना, अपना प्यार जताना,   इस लेख में जनेंगे-

1 किस् क्या है ? किस् के प्रकार,

2 कौन सा किस से शुरू करें ?,

3 किस् करने से पहले क्या न करें,

4 किस् करने जाने से पहले क्या करें ?,

5 किस् कैसे मांगे,

6 कैसे किस् करें और किस् करते समय किस तरह कि गलती न करें । 

वैसे अगर आप जिन्दगी के उस पल मे दखीला ले चुकें है और आपको समझ मे नहीं आ रहा कि किस् कैसे करें ? किस् करने के लिये राजी कैसे करें ? कहीं किस करते वक्त माना तो नहीं कर देगी ? शायद ऐसे ही कुछ सवाल जो आप के मन मे गुंज रहा होगा समझ मे नही आ रहा  है कि कैसे किस् करें ? लेकिन किसी लडकी को किस् करने से पहले आईये जन लेते है कि किस् ( चुंबन )क्या है ?

Types of kisses
Types of kisses

1 किस् क्या है ? किस् के प्रकार

जब दो लोगो में होठो के मध्यम से सामने वाले को छूते या फिर एक दूसरे के होठों को, चूमते है तो उनके शरीर में अतीरिक्त उर्जा का प्रायाप्त प्रवाह होता है और थकान दूर हो जाती है उसे किस् कहा जाता है । किस के 13 प्रकार होते है-

  • माथा किस्

दो लोगो मे एक होठ से दूसरे को माथा पर चुम्बान करता है उस्से माथा किस् कहा जाता  है । माथा किस् व्यक्ति के दोस्त, साहेली तथा, परीवार संबधी लोगो को किस् किया जाता है, साथ मे प्रेमीओं भी होता है । यह व्यक्ती के रिश्ते का अच्छा संबध को दर्शाता है, और व्यक्ति को रिश्तेदारों के सामने प्यारा दिखाता है ।

https://sideromeo.com/types-of-kisses/
Types of kisses
  • हाथो पर किस्

एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति को होठो के व्दारा दूसरे व्यक्ति के हाथों मे चुम्बन करता है उसे हाथों पर चुंबन कहा जाता है । यह किस् प्रेमिओं मे होता है जो कि खस कर प्यार का इजहार करते वक्त किया जाता है । जो कि खस तौर पर एक दूसरे के रिश्तों को दिखलाने मे मदद करता है, यह किस दिल में छिपे प्यार  सामने वाले को दिखाती है ।

  • नाको, नाक से किस ( एस्किमो किस्स् )

 दो लोगो के बीच मे नाक से नाक एक दूसरे के नाकों मे धीरे-धीरे रगडते हैं, नाको नाक किस् कहा जाता है । खस कर यह किस् बल्य बच्चे और माता पिता के बीच मे देखा जाता है, माता या पिता के प्यार को अपने बच्चे के प्रति दर्शाता है ।

  • सिंगल लिप किस्

जब एक व्यक्ती सामने वाले व्यक्ति के होंठ के निचे या उपरी लिप पर किस् करते है तो उस्से सिंन्गल लिप किस्स् कहा जाता है । खस कर यह किस् सामने वाले को बताने के लिये किया जाता है, जिसे पाता चलता है कि अपने साथी का मे किस कदर खोये जा रहे है ।

  • कान पर किस

जब व्यक्ति सामने वाले व्यक्ति को अपने होठ के व्दारा सामने वाले को कानो पर किस् करता है तो उसे कानो पर किस् कहा जाता है । यह किस् खस कर सामने वाले व्यक्ति को उतेज्जित करने के लिये किया जाता है, जिसे किस् करने के साथ हल्के हल्के होठों से काटता है जिस्से कि किस् ले रहे व्यक्ति भारी मात्रा मे उत्तेज्जित होते है ।

  • तितली किस्स

जब दो व्यक्तीओं मे, होठो के व्दारा दोनो ही एक दूसरे के पलको को सहलाते हुये किस्स करते है, उस्से तितली किस्स् कहा जाता है । खस कर यह  किस् शरीररिक संदध बनाते वक्त किया जाता है ।

  • लिपलोप किस्

दो व्यक्तीओ मे होठ होठ के सिधे किस् किया जाता है, और कुछ देर तक किस ही करते रहते है उस्से लिपलोप किस् कहा जाता है । यह किस प्रेमिओं मे होता है जो कि रिलेशनशिप मे कई दिन हो चुके होते है ।

  • गालों पर किस् ( साईड किस् )
    https://sideromeo.com/types-of-kisses/
    Types of kisses

एक व्यक्ति सामने वाले व्यक्ति को गालो पर किस करता है उस्से गालो पर किस् कहा जाता है । यह सामने वाले को आपस के प्यार को दिखाता है, जो कि परीवार से लेकार प्रेमिओं मे देखा जाता है । एक दूसरे के स्नेह प्यार को दर्शाने के लिये गालों वाला किस् किया जाता है ।

  • जीभिया किस्

व्यक्तिओ में एक व्यक्ति सामने वाले व्यक्ति के जीभो से लर का आदला बादली या फिर जिभो के मध्यम से किस् किया जाता है, उस्से जीभिया किस् कहा जाता है । यह किस् उतेज्जित हुये व्यक्ति को ओर ज्यादा उत्तेज्जित करने के लिया किया जाता है । जो कि दो प्रेमिओ मे होता है ।

  • बाँद आखों पर किस्

यह किस् एक व्यक्ति सामने वाले व्यक्ति के बाँद आंखो पर हल्का किस् करता है, उस्से बाँद आखों पर किस् कहा जाता है । खस कर यह किस् किसी को दर्शाने के लिये नहीं बल्कि अपने आपको बताती है कि जिस्से किस कर रहे है उस्से कितना प्यार करते है ।  अक्सर देखा गया कि माता अपने सोये बच्चे के बाँद आखों पर किस्स् करती है, यह प्रेमिओं मे भी देखा जाता है ।

  • गर्दन किस्

व्यक्ति सामने व्यक्ति को होठों के द्वारा गर्दन पर किस् करता है, उसे गर्दन किस् कहा जाता है । इसमे लोग किस् करने से साथ हल्का हल्का होठो से गर्दन को छुते हुये पार होते है, जो कि किस् कर रहे व्यक्ति कि गर्महाट, साथी तक पहुंचाने का काम करता है, जो कि साथी को उत्तेजना कि भवना मे ले जाती है ।

  • फ्लाईंग किस्
Types of kisses
Types of kisses

एक व्यक्ति दूर की व्यक्ति को हवा के मध्यम से किस करता है उस्से फ्लाईंग किस् कहा जाता है । य़ह किस् करने के लिये एक दूसरे को सामने जाने कि अवश्कता नहीं होती है, बस मन कि भवनाओ को एक दूसरे को दिखाने के लिये किया जाता है । यह ज्यादातर प्रेमिओ मे होता है, जब भिडभडाक स्थान पर आँखो के नजरो से नही, पर शरीर रुप से दूर दूर होते है ।

  • बाईट किस्

इसमे सामने वाले व्यक्ति को होंठो से लेकार, गाल तक गाल से लेकार कानों तक किस् करता है और देर तक बनाये रखता है उस्से बाईट किस कहा जाता है । यह किस् बहुत देर तक बनी ही रहती है, तेजी से शरीर मे उत्तेजना बढाने के लिये किया जाता है ।

2 कौन सा किस से शुरू करें ?

  • अगर आप उन मे से है जो कि कभी किसी को किस् नहीं किये है तो आप फ्लाईंग किस् से शुरू कर सकते है, फोन मे बाते करते वक्त फ्लाईंग किस् से शुरूआत कर सकते हैं । आदत भी हो जायेगा तो किस् मांगने मे दिक्कात नहीं होगी ।
  • जब भी उनसे मिले तो गालों पर किस् या माथा किस् के मध्यम से शुरू कर सकते है, इस्से आप में उनके प्रति प्यार दिखलायेगा ।
  • शुरूआती दौर मे जब भी किस् करे तो सिंगल लिप किस् चार से पाँच बार जरूर करें एक दिन मे नहीं चार से पाँच दिन के बाद । उसके बाद लिपलोप किस् कर सकते, उसके बाद अपने आप ही आगे का काम हो जयेगा, कि आपको कहाँ कहाँ किस् करना है ।

3 किस् करने से पहले क्या न करें

  • आपको गुठका पान मासाला का सेवन नहीं करना है, नहीं तो किस् करने से ही पहले आपको दूर फेंक देगी । हाँ अगर फ्लाईंग किस् करने जा रहे है तो कोई फर्क नहीं पडता ।
  • सिग्रेट शराब का सेवन न करे नहीं तो बदबू से किस करना तो दूर आपके पास भी नहीं जायेगी ।
  • मूँ मे ऐसी चिज न डाले रहे जो कि आपका मूं गंदा दिखे ।

4 किस् करने जाने से पहले क्या करें ?

  • अपने दातों को आच्छे से साफ करें ।
  • मूँ को बदबुदार से खूशबूदार बनायें ।
  • फेशवस के ईस्तमाल से चेहरे को साफ करें ।
  • शरीर पर इत्रा का प्रायोग करें ।
  • किट किट या किसी ऐसी चिज का सेवन करें जो कि मूं के बादबु को मिटा देती है ।
  • अच्छे कपडे पहने
  • होठो को मुलायम रखें

5 किस् कैसे मांगे

  • लडकी को किस् के लिये शहर से दूर जागह पर बुलायें

किस् करने के लिये साही समय और साही जगाह का चुन्ना बहुत जरुरी है । आप जिस दिन भी किस करना चाहते है । ध्यान रहे शाम ढलने को जा रहा हो, रोश्नी थोडा कम हो, यानी कि शाम के समय लोगो का मन थोडा अच्छा रहता है । इसीलिये ऐसी जगाह पर बुलाईये, जहाँ लोगो कि संख्या कम दिखाई देती है । इतना ज्यादा भी शामशन नहीं कि वह जाने के  लिये माना कर दे । ज्यादा शाम  को भी न बुलाये नहीं तो रात होने के डर से नही जायेगी । इसीलिये साही समय और साही जगाह का चुन्ना बहुत जरुरी होता है ।

  • उसकी बोडी लैंग्येज को समझे

जब भी आप उन्हे बुलाये तो किस् करना तो दूर सबसे पहले उनके बोडी लैंग्येज को समझे । क्या पता वो किसी से झगडे करके गई हो या फिर किसी ने उसका दिल दु:खा दिया हो । इसीलिये उसको पहले देंखे कि सिम्पल लूक मे है या गुस्सेल मोड में । अगर वह गुस्सा या दु:खी है तो किस् करने का प्लेनिंग बादल दें । सिम्पल लूक मे दिख दिख रही है तो आगे कि काम शूरू कर सकते है । बातों बातों मे बार-बार आपकी आँखों मे देख रही है, यह आपके लिये आच्छा संकेत है । आप यह भी पता कर सकते है वह आपसे कितनी कारीब बैठी है, अगर वह आपके ज्यादा ही कारीब है तो वह चाह रही है कि आप उस्से किस् करें ।

  • किस् करने के लिये ज्यादा न सोंचे

आपको बहार कि दुनिया को भूला के सिर्फ उस वक्त के बारें मे सोचना है, यादी आप वास्तव मे किस् करना चाहते है तो आपको ज्यादा सोचने कि जरुरात नहीं । अपनी फिलींग को बतायें कि आप उनके बारें क्या सोचते, जो भी अच्छा लगता है, उनकी आँखे आपको आच्छी लगती है तो उनके आँखो के बारे मे तारिफ करें । क्योंकि आँखो का उदाहरण इसलीलिए दिया क्योंकि मुझे उसके आँखो बहुत आच्छा लगता है । उनके मुस्कान आच्छी लगती हो तो, उनके मुस्कान के बारें तारीफ करें । अगर उन्हे वो बताते है जो उनमे आपको आच्छा लगता है तो आपको आसानी होगी अगला कदाम उठाने में ।

  • उस्से किस् करने के लिए खूश करें

उन्हे खूश करने के लिये आपको दो तिन लाईन शायरी, जो कि उस्से जुडा हुआ हो । यह फिर उसके नाम लेके एक रोंमांटिक गाना गा सकते हैं । आवाज ठिक नहीं है तो भी घबराने कि अवश्यक्ता नहीं, क्योंकिं जैसे भी आवाज हो गातें है तो लडकीओ को बहुत ही अच्छा लगता है । ध्यान रहें गाना गाते वक्त आपकी आँखे उसके आँखे पर होना चाहियें, जो कि आपके गाना सून शर्मा के सिर झूका लें ।

  • उस्से रोमांटिक मूड मे ले जायें

उन्हे किस् करने के लिये, उन्हे अपने तरफ जितना हो साके, अकर्षित करने कि कोशिस करें । उन्हे रोमांटिक फिल करने के लिए रोमांटिक शायरी सुना सकते है या फिर आपको हल्के से उसके हाथ पकडें, उनके आंखो मे देखे उसके बाद उन्हे जितना हो सके अपने कारीब लाने कि कोशिस करें । याद रहे आपको सिर्फ किस् करना है, कुछ ओर न कर बैंठे, बाद का काम बाद मे देखें । 

  • किस् करने के लिये संकेत करे

अगर आप उन्हे किस् करना चाहते है तो शब्दो और शरीरिक रुप से संकेत दे कि उस्से किस् करना चाहते हैं । या फिर उनके साथ बातें करते समय सिर्फ उनके होठो कि तारीफ करें । उसके बाद उसके होठों को प्यास भारी नजरों से देखें, उन्हे लगना चाहीये कि आप उन्हे किस् करना चाहते है ।

  • प्रेमिका को कारीब लाने कि कोशिस करें

उसके हाथों अपने हाथों से धीऱे-धीरे प्यार से सहलायें, उसके हाथ से होते हुये, नजर को उनके आँखो तक ले जायें । उन्हे कुछ न कहते हुये उन्हे ही देखें । अगर आप ईमांदरी और साफ सुथरा तारीके से करते है तो आपको ज्यादा कुछ बोलने कि अवश्यक्ता नहीं, इधार उधार कि बातें छोड के अपनी होठो को धीरे धीरे उसके होठों तक लें जायें, उसके बाद अगला कदाम आप का ।

6 कैसे किस् करें और किस् करते समय किस तरह कि गलती न करें

पहला किस् एक यादगर किस् होती है, इसीलिए जब अपने लवर को पहली किस् करते वक्त सावधानी बरतनी बहुत जरूरी है, क्योंकि आपकी पहली किस् यादगर किस् होती है । आपकी खरब किस् आपको उसके सामने कफी खरब कर सकती है ।

Types of kisses
Types of kisses
  • अगर आप खडे होकर किस् कर रहे हैं, तो पहला हाथ गाल में होना चाहिये, दूसरा हाथ उसके कमर के पिछले हिस्से पर रख उनको जितना हो सके अपने पास खिंचे । उसके बाद उसके चेहरे के पास धीरे धीरे जायें । अगर बैठ के किस् करना चाहते तो आपको उन्हे अपने तरफ खिंचना नहीं है बल्कि आप उनके पास जायें ।
  • आप चुंबन करने से पहले जैसे ही अपने होठ को साथी के होठ के करीब लाएं, तो अपनी जीभ को हल्के से उनके होठ पर लगाएं । ध्यान रहें यह कहना आसान है, इसीलिये ह़डब़डाना बिल्कुल नहीं और काँपना भी नहीं, नहीं तो किस् का माजा नहीं ले पयेंगे ।
  • किस् करते वक्त हडबाडायें नहीं, हल्के हल्के अपने होठों से उसके शरीर को छुते जाना है । किस् करते वक्त आवाज न करें और ज्यादा चुसने या चाटने कि गलती न करें । लार पर थोडा काबू करने कि कोशिस करे मूंह से ज्यादा लार न निकाल दें, इसे आपके किस् को खरब कर सकता है । अगर मूँ मे लार आये तो कुला करले उसके फिर शूरू हो जायें ।
  • जब दोनो होँठ एक दूसरे होंठ मे हो तो आप कोशिस करे कि साथी के निचले लिप को अपने होँठ से स्थिर करें । उसके बाद अपने ऊपर वाले लिप को उसके मूँ के हल्का सा आंदर ले जायें, आप लिप को अंदर लेते वक्त जोश नहीं दिखाना है, न हीं हडबडाना है धीरे से ले ।
  • किस् को लम्बा करने के लिये अपने साँसें लेना न भूलें, साँसे लेते रहे, साँसे भी लें तो नाक से वो भी धीरे-धीरे । अगर धीरे साँसे लेने मे दिक्काते होती है तो, बीच मे थोडा रूक के गहरी साँस लेने के बाद दोबारा शूरू हो जायें ।
  • मन लिया आप शुरू हो गये, अब उनमे जोश लाना चाहते है, होंठ मे हल्के प्यार से काटें । काटते वक्त ध्यान रखें । जोर से न काट दें, नहीं तो किस् करने का मूड ही उनका खरब न हो जाये । एक दम प्यार से हल्के हल्के करें भविष्या में पहला किस् आपको और उनको याद आ जाये ।

शायद आपको हमारे व्दारा बताये, छोटी छोटी बाते आच्छा लगा होगा । जिन्दगी कि वह मोड आपका है जिस्से आप आने वाले काल मे उनके साथ बिताते हुये जियेंगे । हमारे व्दारा बताये बातों को अपने जिंदगी मे जोडना या नहीं जोडना आपके फैसले के ऊपर करता है ।

This Post Has One Comment

Leave a Reply

Close Menu